Back button
 
ट्रेड फेयर के उद्घाटन समारोह में स्वयं सहायता समूहों के उत्पादों की बिक्री के लिए सहकार भारती की प्रेरणा से सिम्पलीदेसी वेन्चर्स प्रा. लि. के ब्रांड का भव्य शुभांरभ केन्द्रीय कृषि मंत्री, नरेन्द्र सिंह तोमर ने सिम्पलीदेशी ब्रांड के उत्पादों की बकेट खोलकर किया। श्री तोमर ने राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम द्वारा आयोजित तीन दिवसीय भारतीय अंतर्राष्ट्रीय को-आपरेटिव ट्रेड फेयर का प्रगति मैदान, नई दिल्ली में उद्घाटन करते हुए कहा कि स्वयं सहायता समूहों और सहकारी संस्थाओं के उत्पादों की बिक्री के लिए एक प्लेटफार्म की आवश्यकता हमेशा रही है, सहकार भारती ने यह जिम्मेदारी अपने कन्धों पर लेकर सिम्पलीदेसी वेन्चर्स की शुरुआत की है जोकि आगे चल कर एक वैश्विक ब्रांड बनेगा।

केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने भारतीय अंतर्राष्ट्रीय सहकारिता ट्रेड फेयर के समापन अवसर पर सहकारिता को समाज के आर्थिक उत्थान का माध्यम बताया। स्वयं सहायता समूहों एवं सहकारी समितियों द्वारा निर्मित वस्तुओं की पहुँच आगामी वर्ष 2022 तक देश के 25 करोड़ परिवारों तक होनी चाहिये।
कार्यक्रम में सहकार भारती के राष्ट्रीय महामंत्री डा0 उदय जोशी ने बताया कि स्वयं सहायता समूहों एवं अन्य सहकारी समितियों के उत्पादों, कृषि उत्पादों, हथकरघा, हस्तशिल्प और जैविक उत्पादों को भारत सहित वैश्विक बाजार में बेचने का एक मंच, एक ब्रांड वैल्यू है सिम्पली देसी।
जोशी ने कहा कि देश भर में लगभग 56 लाख स्वयं सहायता समूह और 8.5 लाख सहकारी संस्थाऐं कार्य कर रही हैं, जिनमें अपार संभावनाएँ हैं। हालाँकि, इनके लिए उचित बुनियादी सुविधा, बाजार की उपलब्धता, मानकीकृत प्रक्रिया और प्रशिक्षण का नितांत अभाव है। सिम्पली देसी ऐसे उत्पादों व कृषि उत्पादों को गुणवत्ता मानकों में अग्रणी बनाकर तथा बाजार भाव में सामान्य जन को सुलभ करा रहे हैं।
सिम्पलीदेसी की प्रबंध निदेशक मधुबाला साबू और मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं सहकार भारती के प्रदेश महामंत्री प्रदीप चौबीसा ने बताया कि सिम्पलीदेसी का उद्देश्य पूरे देश में निजी और सहकारिता साझेदार के आधार पर स्वयं सहायता समूहों, निजी देशी स्थानीय लघु व कुटीर उद्योगों और सहकारी संस्थाओं द्वारा निर्मित उत्पादों की गुणवत्तापूर्ण और उचित मूल्य पर बाजार की व्यवस्था प्रदान करना है ।
मेले में सहकारिता क्षेत्र में कार्यरत गैर सरकारी संगठन सहकार भारती और सिम्पलीदेसी वेन्चर्स प्राइवेट लिमिटेड का स्टाल भी स्थापित किया गया। सिम्पलीदेसी द्वारा मुख्य रूप से हाथ से कूटे हुए मसाले, मेवे, प्रीमियम चाय, हर्बल साबुन व शेम्पू, मुखवास, केमिकल फ्री गुड, चकली, शुद्ध शहद इत्यादि कई उत्पादों को दर्शाया गया।
इस अवसर पर भारत सरकार के केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री पुरुषोत्तम रुपाला, कैलाश चौधरी, उत्तराखंड के सहकारिता मंत्री धनसिंह रावत, मेघालय के उपमुख्यमंत्री सचिव केन्द्रीय कृषि मंत्रालय संजय अग्रवाल, सचिव कार्मिक मंत्रालय अनुप वाधवन, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क्षेत्रीय संघचालक और आर्थिक विषयों के प्रखर चिंतक डा0 बजरंग लाल गुप्ता, राष्ट्रीय अध्यक्ष रमेश वैद्य, राष्ट्रीय महामंत्री डा0 उदय जोशी, राष्ट्रीय संगठन मंत्री संजय पाचपोर, राष्ट्रीय संरक्षक और नेफकब के अध्यक्ष ज्योतिन्द्र भाई मेहता, राष्ट्रीय संरक्षक एवं भारतीय रिजर्व बैंक के मनोनीत डाईरेक्टर सतीश मराठे, राष्ट्रीय क्रेडिट सेल प्रमुख और दिल्ली सहकार भारती के अध्यक्ष सुनील गुप्ता, राष्ट्रीय सम्पर्क प्रमुख लक्ष्मी नारायण गुप्ता, राष्ट्रीय स्वयं सहायता प्रमुख रवि खरकिया और राष्ट्रीय महिला प्रमुख शताब्दी पांडे, राष्ट्रीय मंत्री प्रमोद सामर, राजस्थान प्रदेश अध्यक्ष हनुमान प्रसाद अग्रवाल, प्रदेश सीए प्रकोष्ठ प्रमुख सुनील सोमानी, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य कमलेश गहलोत, प्रदेश मंत्री राजेश चित्तौड़ा, सुशील गोयल, सीए मनोज सोनी सहित विभिन्न सहकारी संस्थाओ के प्रतिनिधि एवं सहकार भारती के विभिन्न राज्यों से आये पदाधिकारी गण उपस्थित रहे ।

Back button